What is an IP Address-IP Address क्या है?

techonology

दोस्तों अगर आप मोबाइल व कंप्यूटर इस्तेमाल करते हो तो IP  का नाम  ज़रूर सुना होगा लेकिन सायद आपको यह न पता हो की आखिर IP Address होता क्या है। आज की इस पोस्ट में हम जानेंगे की What is an IP Address-आईपी एड्रैस क्या है?

What is an IP Address-IP Address क्या है?

Internet Protocol Address  (आईपी एड्रैस)  Network (Internet) से  Connect Devices जैसे की Computers, Tablets और Smartphones का एक Unique Address होता।  यह आपके कंप्यूटर को आपके नेटवर्क और दुनिया भर के अन्य उपकरणों से जोड़ने में मदद करता है। World की प्रत्येक नेटवर्क डिवाइस जैसे की कंप्यूटर और मोबाइल जो इंटरनेट से Connect  है उन सभी की अपनी अलग अलग IP होती है। आज Internet के लिए उपयोग किए जाने वाले IP Address 2 Versions में उपलब्ध है IPv4 और  IPv6.

IP Address

What is IPv4- IPv4 क्या है?

IPv4 IP का पहला Version  था। यह 1983 में पहली बार ARPANET द्वारा इस्तेमाल किया गया था । आज IPv4 सबसे व्यापक रूप से इस्तेमाल किया जाने वाला IP Version है। इसका उपयोग Addressing System  का उपयोग करके नेटवर्क पर Devices की पहचान करने के लिए किया जाता है।

IPv4 32-Bit  का होता है। IP Version 4 से  लगभग 4 बिलियन से अधिक Network Device को आईपी एड्रैस Provide  की जा सकती है। IP Version 4  को अब तक प्राथमिक इंटरनेट प्रोटोकॉल माना जाता है और यह  Version इंटरनेट में Connected डिवाइस पर लगभग 94% इस्तेमाल किया जाता है।

Features of IPv4

  • Connectionless Protocol
  • Allow creating a simple virtual communication layer over diversified devices
  • It requires less memory, and ease of remembering addresses
  • Already supported protocol by millions of devices
  • Offers video libraries and conferences

What is IPv6- IPv6 क्या है?

सभी डिवाइस जो इंटरनेट से Connected हैं उनके पास एक Unique आईपी एड्रैस होता  है और आज के समय में लगभग सारे लोग Internet इस्तेमाल करते है और आने वाले समय में इसकी संख्या और बढ़ेगी जिसका अर्थ है कि इंटरनेट के  लिए अरबों आईपी एड्रैस  की आवश्यकता होगी और जैसा की हम जानते है की P Version 4 से केवल 4 बिलियन तक ही Network Device को आईपी एड्रैस दी जा सकती है। इस कमी को पूरा करने के लिए  IPv6 को Develop किया गया है।

यह (IP) इंटरनेट प्रोटोकॉल का सबसे नवीनतम संस्करण है। इंटरनेट इंजीनियर टास्कफोर्स ने इसे 1994 की शुरुआत में शुरू किया था।  और अधिक इंटरनेट आईपी एड्रैस की आवश्यकता को पूरा करने के लिए यह नया IP Version को Deployed किया जा रहा है। इसका उद्देश्य उन कमियों को पूरा करना था जो IPv4 में थी।

IPv6 128 Bit का होता है और इससे  लगभग 340 Undecillion Network Devices को Unique आईपी एड्रैस Provide किया जा सकता है। IPv6 को IP (इंटरनेट प्रोटोकॉल) की  अगली पीढ़ी भी कहा जाता है।

Features of IPv6

  • Hierarchical addressing and routing infrastructure
  • Stateful and Stateless configuration
  • Support for quality of service (QoS)
  • An ideal protocol for neighboring node interaction

Types of IP addresses

IP Address को कई भागो में बांटा गया जैसे कि Private आईपी एड्रैस, Public IP addresses, Static आईपी एड्रैस and Dynamic IP addresses  आइए एक-एक करके इन विभिन्न प्रकार के IP Addresses के बारे में Details जानते हैं :

Private IP Address

एक Private IP  Adders  एक  आईपी एड्रैस होता है जो किसी राउटर या अन्य Network Address Translation (NAT) डिवाइस के पीछे के आंतरिक उपयोग के लिए आरक्षित होता है। Private IP Adders Public IP adders के विपरीत होते है। Private IP address  Inter NIC  द्वारा Allocated Address होता है जो Organizations  को अपना निजी नेटवर्क बनाने की अनुमति देता है। Organizations में का एक निजी नेटवर्क बनाने के लिए आप तीन प्रकार की IP Class का इस्तेमाल कर सकते है Class A, Class B  और Class C.  private आईपी एड्रैस को local IP address के रूप में भी जाना जाता है।

Public IP address

एक Public IP address  वह Address होता है जो इंटरनेट को Directly Access करने की अनुमति देने के लिए एक कंप्यूटिंग डिवाइस को Assigned किया जाता है। एक वेब सर्वर, ईमेल सर्वर  पर Public आईपी एड्रैस को Assigned किया जाता है ताकि लोग Public Network से उसे Directly Access कर सके।  एक Public आईपी एड्रैस Globally Unique होता है, और केवल एक Unique Device  को ही सौंपा जा सकता है।

friend good friend who?

Powerful Women 

Success story success motivational story

Praise the gods

11 such stories of Mahabharata 

Mandodari-Lament, Ravan’s funeral

Static IP address

Static IP Address  मैन्युअल रूप से एक डिवाइस के में कॉन्फ़िगर किया गया जाता है  इसे Static IP  इसलिए कहा जाता है क्योंकि यह बदलता नहीं है। यह Dynamic आईपी एड्रैस के बिल्कुल विपरीत होता है

Dynamic IP address

Dynamic IP address  है  आपके स्मार्टफोन, डेस्कटॉप पीसी या वायरलेस टैबलेट और नेटवर्क के प्रत्येक Connected डिवाइस में Automatically ही Assigned  हो जाता है। आईपी एड्रैस  का  automatic assignment  DHCP Server द्वारा किया जाता है। नेटवर्क में DHCP Server द्वारा Assigned IP Temporary होता है इसलिए इसे Dynamic आईपी एड्रैस कहा जाता है।

Conclusion

दोस्तों आज  की इस पोस्ट से हमने सीखा की  What is an IP Address-आईपी एड्रैस क्या है? What is IPv4- IPv4 क्या है? और What is IPv6- IPv6 क्या है?  साथ ही Types of आईपी एड्रैस जैसे की Private आईपी एड्रैस, Public आईपी एड्रैस, Static आईपी एड्रैस और Dynamic आईपी एड्रैस क्या है।

To get every information like our Facebook page where you are provided with the right information. Click here to like our FACEBOOK PAGE.

Leave a Reply